शरारती तत्वों द्वारा क्षतिग्रस्त काली बेई के बांध का डी.सी उप्पल ने किया दौरा।

हुसैनपुर 1 जुलाई , (कौड़ा)-(Dam damaged by mischievous elements) डी.सी कपूरथला दीप्ति उप्पल ने आज विधानसभा क्षेत्र सुल्तानपुर लोधी के धुस्सी बांध सहित गांव फत्तेवाल की अवतार गौशाला समीप पवित्र काली वेंई के उस बांध का निरीक्षण किया जिसे कुछ शरारती तत्वों द्वारा क्षतिग्रस्त कर दिया गया था।
संत सीचेवाल ने बांध पर कई किलोमीटर तक मिट्टी डाल उन्हें मजबूत और चौड़ा किया था।
उन्होंने करीब 10 फुट चौड़े बांध के हिस्से की मज़बूती और मैप अनुसार चार कर्म वाले मार्ग जिसमें मौजूदा दौर में धान की बिजाई हो चुकी है के निर्माण को लेकर  मौके पर संबंधित अधिकारियों को आदेश जारी कर दिए। ग़ौरतलब है कि वातावरण प्रेमी पद्मश्री संत बलबीर सिंह सीचेवाल ने संभावित बाढ़ अथवा बाढ़ जैसे हालातों से छुटकारा दिलाने के लिए गत आठ वर्ष पहले मंड क्षेत्र के गांव फत्तेवाल समीप वेईं के दोनो ओर बांधों पर कई किलोमीटर तक मिट्टी डाल उन्हें मजबूत और चौड़ा कर दिया था।
उन्होंने इस इलाके की संगत की मांग पर एक ऐसे पुल का निर्माण कराया जिसकी लंबाई 20 फुट से ज्यादा और चौड़ाई 6 फुट बताई जा रही है। इस पुल के निर्माण को 6 वर्ष करीब समय लगा। पंजाब सरकार की मंजूरी मिलने के बाद अब पुल जिसे वेईं पर स्थापित किया जाना है।
ड्रेनेज विभाग अधिकारियों को सख्त आदेश जारी बांध की मज़बूती और बाढ़ प्रबंधन कार्य में किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी- डी.सी दीप्ति उप्पल
इसे लेकर फत्तेवाल गौशाला के साथ लगते बांध हिस्से में कंक्रीट की फ़ाउंडेशन का काम पूरा है, अब वेंई के दूसरे हिस्से पर फ़ाउंडेशन की तैयारियां अभी हो ही रहीं थी कि तभी कुछ शरारती तत्वों द्वारा वेईं के दूसरे तट पर बांध के कुछ हिस्से को उखाड़ दिया गया जिसके चलते अब बांध का वह हिस्सा टूटने के कगार पर पहुंच गया है।
डी.सी ने ड्रेनेज विभाग अधिकारियों को सख्त आदेश दिए कि बांध की मज़बूती और बाढ़ प्रबंधन कार्य में किसी प्रकार की कोताही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने संत बलबीर सिंह सीचेवाल, टैकनीकल माहिर संत सुखजीत सिंह सीचेवाल और क्षेत्रीय लोगों से भी मुलाकात दौरान एक मांग पर उन्हें पुल को चालू किए जाने संबंधी सभी उपचारितों को जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर एस.डी.एम डॉ चारुमिता, डी.डी.पी.ओ गुरप्रताप सिंह गिल्ल, इत्यादि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!